Monday, March 27, 2023
HomeTrendingUP DGP Removed 2022 : प्रशासनिक कार्यों में रुचि न लेने पर यूपी...

UP DGP Removed 2022 : प्रशासनिक कार्यों में रुचि न लेने पर यूपी के डीजीपी हटाए गए

उत्तर प्रदेश के डीजीपी मुकुल गोयल पिछले साल जून में कमान संभाले थे | लगभग 11 महीने बाद ही उन्हें हटा दिया गया है | मुकुल गोयल को अब सिविल डिफेंस का डीजी बनाया गया है | उन्हें शासकीय कार्यों की अवहेलना करने, विभागीय कार्यों में रुचि न लेने एवं अकर्मण्यता के चलते हटाया गया है।

डीजीपी का कार्यभार नए डीजीपी की तैनाती तक एडीजी कानून-व्यवस्था प्रशांत कुमार को सौंप दिया गया है। यह पहला मौका है | जब किसी डीजीपी को इस तरह के आरोप में हटाया गया है | मुकुल गोयल को अब डीजी नागरिक सुरक्षा के रूप में तैनात किया गया है |

किन कामो में नही दिखी सक्रियता

उत्तर प्रदेश के डीजीपी मुकुल गोयल को शासकीय कार्यों की अवहेलना करने, विभागीय कार्यों में रुचि न लेने एवं अकर्मण्यता के चलते हटाया गया है। इन विवादों के कारण सुर्खियों में रहे डीजीपी मुकुल गोयल

3 अक्टूबर 2021 को लखीमपुर के तिकुनिया में हुई हिंसा के बाद कानून व्यवस्था बिगड़ने लगी | हालात काबू में करने के लिए खुद एडीजी लॉ एंड ऑर्डर प्रशांत कुमार को मोर्चा संभालना पड़ा | 2 दिन तक प्रशांत कुमार ने लखीमपुर में कैम्प किया | प्रदेश के तमाम जिलों में प्रदर्शन शुरू हो गए लेकिन मुकुल गोयल ना तो लखीमपुर गए और ना ही किसी अन्य जिले में पुलिसिंग करते नजर आए | 

उत्तर प्रदेश में विधानसभा चुनाव के दौरान भी मुकुल गोयल का रुख ठीक नहीं रहा | मुकुल गोयल पहले से ही समाजवादी पार्टी के खेमे के अफसर माने जाते रहे हैं | अखिलेश यादव की सरकार में लंबे समय तक मुकुल गोयल एडीजी लॉ एंड ऑर्डर के पद पर भी रहे थे | चुनाव बीते तो सरकार ने बुलडोजर अभियान तेज किया | माफियाओं के खिलाफ कार्रवाई को भी गति दी | लेकिन इस अभियान में भी मुकुल गोयल सक्रिय नहीं दिखे |

RELATED ARTICLES

LEAVE A REPLY

Please enter your comment!
Please enter your name here

- Advertisment -

Most Popular

Recent Comments